पिज्जा डिलीवरी साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी। Delivery Sahil Witch Surabhi's love story'03/10/2019💐part 08)

#EDMranjit

पिज्जा डिलीवरी  साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी। Delivery Sahil Witch Surabhi's love story'03/10/2019💐part 08

साहिल सुरभि प्रेम कहानी
Www.edmranjit.com


            साहिल ऐं साहिल कहां खोये हो। तुम तो खोये हुऐ।
रेगिस्तान तान की तरह खो जाते हो।।
नही सुरभि में सोच रहा हु तुमने पहले मुझें उस दिन बुक मेला।
में देखा थोड़ी बात की उसके बाद मुझे बुक आँफर की जब मैने लेने से मना किया तो चोरी चुपके हमे फौलो किया और हम ये सब महज एक सयोग समझते रहे।।

सुरभि क्या यार अब तो मैने सब बता दिया ना की मैने तुम्हें एक दिन एक बेकरी में देखा बस मुझे लगा मील गया वो दोस्त जिसकी मुझे तलाश थी और वहीं से तुम्हें फौलो करने लगी। चाहती तो सब बुक मेले में भी बोल सकती थी लेकिन फिर मुझे सब कुछ जल्दी जल्दी लगता इसलिये खुद मैने ही थोड़ी मेहनत कर ली।।

साहिल हाहाहाहाहाहा। सुरभि अब इसमे हसनें वाली क्या बात हैं। नही यार बस तुम्हारी मेहनत पर मुझे हसी आ गई मुझे नही पता था दिल्ली आकर मुझे इतनें अच्छे दोस्त मीलने वाले हैं वरना पहलें ही आ जाता सुरभि हाहाहा शो फनी चलो अब ये बताओ तुम खुश तो हो ना।।

साहिल हा यार खुश हु क्यो तुम्हें खुश नही लग रहा। सुरभी हां लग रहे हो खुश लेकिन अभी कुछ टाइम पहले रेगिस्तान में खोये थे इसलिये पुछा। साहिल पता हैं सुरभी अभी तो में बस ये सोच रहा हु में जब यहाँ से रूम जाऊंगा तब उस आकाश से क्या बहना बनाऊँगा क्योंकि वो आज मेरा पुरा हिसाब लेगा पुछेगा कहां था इतने टाइम।।

क्योंकि कभी उसके बिना इतना टाइम कही बिताया नहीं इसलिये मे भी कुछ सोच लु सुरभि अच्छा तो क्या बोलोगे उस से आज सब सच बता देना सुरभी बुक देने आई और साथ ले गई फिर हमने होटल मे लंच किया फिर बाहर गार्डन में बहुत टाइम बैठे बहुत सारी बाते हुई।।

बोलना सुरभि ने बहुत सर खाया और अब वो मेरी बेस्टी हैं। साहिल हाहाहाहा बाप रे तुम तो उस से भी ज्यादा बातुनी हो।सुरभि क्यो अब मुह भी बंद रखना चाहिये और तुम्हारी हैल्प ही तो कर रही हु।साहिल हा बाबा ठिक है यहीं सब बोल दुंगा लेकिन फिर अगर उसने मुझे डांटना शुरु किया तो फिर तुम वहाँ रहोगी बचाने के लिये।।

सुरभि लेकिन साहिल वो डांटेगा क्यों।साहिल इसलिये क्योंकि वो मेरें बड़े भाई जैसा हैं जब में यहाँ आया था तो उसने बिना कुछ सोचे बिना मेरे बारे में जाने ही। कहां था दोस्त रहने कै लिये टेनशन मत लो मै हु ना और उसने कभी मुझसे ऐसा कुछ नही कहां जो मुझे बुरा लगे एक बड़े भाई से ज्यादा ख्याल रखता हैं वो मेरा।।

 अब तुम ही बताओ। सुरभि उस दोस्त से कुछ छुपाना क्या सही होगा ।नही साहिल सब सच बता देना ।साहिल लेकिन एक बात ये भी याद रखना मैने तुम्हें एक नजर मे Select कर लिया था। सेम तुम्हारे दोस्त कि तरह। साहिल हा जानता हु यार तुम भी उसके जैसी हो। अच्छा साहिल अब हमें चलना चाहिये ना आज तो मम्मा भी बहुत सवाल करेगी बोलेगी बिना बताऐँ कहां गायब थी।।

पिज्जा बोय लव स्टोरी।।


और मैने तो फोन भी ना किया। साहिल हा तुम जाओं में भी निकलता हु। सुरभि नही तुम बाहर चलो में पार्किंग से कार निकालती हु तुम्हें भी छोड़ दुंगी ।साहिल नहीं यार मे आटो ले लुंगा। सुरभी क्यो मेरी कार पंसद नहीं या मेरे साथ उसमें बैठना।।

साहिल अरे नही यार ठिक हैं चलो साथ ही चलता हु।में तो बस ये सोच रहा था कही तुम्हारे किसी अपने ने तुम्हें किसी अजनबी के साथ देख लिया तो बहुत सवाल दैने होते हैं। लड़की कि जात को बहुत सवाल करते लोग यार। सुरभि ओफ वोह। यार साहिल कहां चले जाते हो पन्द्रहवीं सदीं में ।इतना मत सोचा करो और अगर ऐसा कुछ हुआ भी तो मैं हैन्डल कर लुगीं यार मार्डन गर्ल हु कोलेज जाती हु घर के बाहर सारे काम देखती हु।।

इतनी बड़ी हो गई हु अपना खयाल औरो से बेहतर रख सकती हु। और सबसे अच्छी बात ये हैं मेरे मम्मी पापा सेम मेरे जैसे ही अच्छी सोच रखते हैं। वो जानते हैं उनकी बेटी कैसी हैं। औकें मिस्टर साहिल लो देखो तुम्हारा घर भी आ गया ।हाहाहा। साहिल जी बिलकुल झासी की रानी जी अब आप आराम से जाईये।।

और अपना खयाल रखना। हम साहिल बायं कल शाम को मीलते हैं ।सुरभि अच्छा ठिक हैं। मिलते हैं औके।
बांय बांय ।रेगिस्तान हाहाहा। साहिल बांय बांय।
साहिल अरे बाप रे लड़की हैं या चलती फिरती डिवीडी जो एक बार शुरू हो जाऐ तो रूकती ही नही।
वैल अब आकाश भाई से निपटना पडेगा।

अब आगे।
क्या साहिल और सुरभि।
की दोस्ती प्यार में बदल जाऐगी।
या फिर दोनों अच्छे दोस्त ही रहेंगे।
और साहिल क्या दिल्ली प्यार करने ।
आया हैं कही वो अपना कुछ भुल तो नहीं।
रहा।
पढते रहिये ।

Www.edmranjit.com
Writing by ranjit choubeay.
03/10/2019

पिज्जा डिलीवरी  साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी। Delivery Sahil Witch Surabhi's love story'03/10/2019💐part 08

Comments

Popular posts from this blog

कुछ पल की जिंदगी हैं कुछ पल में मिट जाना हैं। /There are few moments of life to be erased in a few moments/

Poetry //कितनें सत्य जीवन के💐

अब जिंदगी मैं वापस जाना नहीं है //पोयम//💐