पिज्जा डिलवरी साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी💐Pizza Delivery Sahil Witch Surabhi's love story'12/09/2019💐

#EDMranjit

                 

पिज्जा डिलवरी साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी💐Pizza Delivery Sahil Witch Surabhi's love story'12/09/2019💐

         



पिज्जा डिलवरी साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी💐Pizza Delivery Sahil Witch Surabhi's love story'12/09/2019💐



कहतें हैं जब इंसान कभी तनहा होता हैं।
तो भीड़ से दुर जाने की कोशिश करता हैं
एक ऐसी ही कोशिश साहिल भी करना चाहता था।
शाहिल जो बनारस का रहने वाला हैं।अभी कुछ महिने पहले ही
उसने अपनी जिंदगी की सबसे बड़ी भुल की हैं।
उसने अपनी पढ़ाई छोड़ दि हैं।

उसे लगता लाईफ में ज्यादा पढ़ना बेवकूफी हैं।
शायद इसके लिये ही उसके पापा ने उसकी बहुत खिचाई की हैं।
और इस बात से परेशान हौकर साहिल को लगता हैं उसका खुद का घर और उसके पापा उसके दुश्मन हैं।
साहिल ने बहुत सोच समझकर घर छोड़ भाग लिया हैं वो घर से और अब इतनी बड़ी दुनिया में वो अकेला हैं।
आज साहिल बनारस से दिल्ली आ गया हैं ।

यहाँ उसे कोई जानता भी नहीं और ना ही वो किसी अपने के पास जाना चाहता हैं। उसके पास बस एक बेग हैं जिसमें उसके कुछ कपड़े हैं।
कुछ पैसे हैं जो ज्यादा दिन तक शायद उसकी मद्त ना कर पाऐ।
साहिल दिल्ली आ तो गया हैं और कुछ खुश भी लग रहा हैं ।
ये सोचकर अब में अपना मालिक खुद हु ना पढाई करनी हैं ।
ना कोई कुछ बोलेगा हमें।

उसके सामने अब एक चुनौती हैं ।
वो रहेगा कहां क्या काम करेगा।
और कुछ बात भी करनी हो तो किस से करेंगा।
अभी वो दिल्ली से कनाट पैलेस के पास आकर बहुत खुश हैं।
वहाँ इधर उधर देख रहा हैं बड़े बड़े लोग बड़ी बडी गाडियां।

बहुत बड़ा मार्किट शापिंग मांल।
लेकिन अफशोस ना तो उसका कोई अपना हैं यहाँ ना ही उसको कोई जानता हैं।
अब शाम हो गई हैं ठंड भी बहुत हैं।
साहिल को फिर भी घर का कुछ याद नही आ रहा।
उसे तो बस अपनी तलास हैं ।

अपने मन की इक्छानुसार जिना हैं।
जिसके लिये उसने सब कुछ पिछे छोड़ दिया हैं।
साहिल अभी मात्र 20 साल का हैं।
देखा जाऐ तो कोई मैच्योरिटी भी नही हैं।

अब रात हौ गई हैं सब लोग अपने अपने घर की तरफ निकल रहे हैं दुकानें बंद हो रही हैं। ओफिस भी बंद हो रहे हैं।
पर साहिल कहां जाऐ ।
उसने एक चाय की दुकान पर कुछ नास्ता किया हैं।
और उनसे पुछा हैं क्या यहाँ रात मैं रूकने के लिये कौई ऐसी जगह हैं जहाँ रहकर पैसे ना देने पड़े।
पहले तो चाय वाले ने साहिल से उसका सब पुछ लिया फिर कहां बहुत पागल लगते हौ जो घर छौड़ कर भागें हो।
अब कहां जाओगे क्या करोगे कहां रहोगे।

साहिल ने कहा इतना बड़ा शहर हैं इतने बड़े लोग हैं।
कही ना कही कुछ काम और रहने का जुगाड़ तो हौ ही जाएगा।
आप कृपया करके आज रात रूकने की कोई जगह बता दिजिये।
!!
पार्ट 2..
Next day.
क्या साहिल दिल्ली जैसे शहर मे खुद की तलाश कर पाऐगा।
जानिऐ आगे।
Www.edmranjit.com
Writing by ranjit choubeay. 
12/09/2019

💐पिज्जा डिलवरी साहिल विच सुरभि की प्रेम कहानी💐Pizza Delivery Sahil Surabhi's love story'12/09/2019💐

Comments

Popular posts from this blog

कुछ पल की जिंदगी हैं कुछ पल में मिट जाना हैं। /There are few moments of life to be erased in a few moments/

Poetry //कितनें सत्य जीवन के💐

अब जिंदगी मैं वापस जाना नहीं है //पोयम//💐