Skip to main content

सच्ची बातें । True words🇨🇮💐☝🙏🏻

#EDMranjit

सच्ची बातें । True words🇨🇮💐☝🙏🏻


कुछ लोग कहतें कायर होते हैं वो लोग जो हार जातें हैं।
कुछ लोग कहतें है लगातार प्रयासरत रहने से मंजील का मिलना तय हो जाता है।

मुझें लगता हैं कभी कभी जिंदगी में हार जाना भी जरूरी हैं। 
और मुझें ये भी लगता हैं अगर आप अपने हर सफल प्रयास में असफल हो रहें हो ।तो फिर आपको किसी  और रास्तें का चुनाव करना चाहिए दिशा बदलनी चाहिए एक बार फिर से सफल प्रयास करना चाहिए हो सकता है इस बार सफलता आपके पास आपके साथ हो।। 

कभी कभी इंसान बहुत महत्वाकांक्षी हो जाता है। उसका उदेश्य भी बहुत बड़ा होता है। ऐसे में जिंदगी उसका बहुत कड़ा इम्तिहान लेती हैं। मित्रों अगर आप भी महत्वाकांक्षी हो आपका लक्ष्य भी बड़ा है। तो याद रखना रास्ता बहुत मुश्किल होगा चोट भी गहरी हो सकती है। हर उस कडे़ संघर्ष के लिये तैयार रहना जो आपके डिजायर के रास्ते मैं  बाधा डालने का कार्य करेंगी। 

याद रखना मुश्किले आशान तभी होंगी । जब जीत के लिये  हौसले बुलंद होंगे। 
कुछ निडर होकर चलना कुछ अडिग हो जाना जिंदगी का कारवां अपना मुकाँ खुद बना लेगा।। 

मेरे एक दोस्त का कथन था सिंकदर महान था उसके लियें मेरी दो लाईने। 

युहीं नहीं कोई सिंकदर बन जाता हैं।  युहीं नहीं कोई शंहशाह कहलाता है। गुजरे कल को उठाकर  तो देखो। हजारों तख्तों के पिछें कुर्बानियों का लहु ही बहा हैं।। 

एक सवाल बहुत चुभता हैं। वो लोग कायर है जो जिंदगी को मिटा लेते हैं।। 
 ये गलत सोच हो सकती है। लेकिन शायद किसी को पता नहीं। अपनी जिंदगी को युहीं गवाँ देना भी आसान नहीं होता। 
खुद को मिटा लेने के लिये भी अथाह साहस की जरूरत होती है। 

      सच्ची बातें True words🇨🇮💐☝🙏🏻


मैं एक ऐसे सख्स की कहानी जानता हूँ। जो पेशे से मश्हुर वैज्ञानिक था। पर अपने एक परिक्षण को सफल करने में वो बार बार असफल हो जाता था। जब भी वो असफल होता तो प्रसांत महासागर के तट पर जाता और डुबने की सोचता था लेकिन वो साहस नहीं जुटा पाता था और हर बार लौटकर वापस अपने लैब में जुट जाता था। उन्होने अपने एक स्मोल मेसेज मैं लिखा था। 
कंबख्त जिंदगी बहुत परेशान करती है। ये दुनियाँ की सबसे अनभिज्ञ पुस्तक हैं जिसे सही कोई नहीं पढ़ सकता। 
और मौत उससे भी ज्यादा डरावनी जगह है जहाँ जाना शायद ही कोई चाहता है। 

मित्रों अब आप समझ सकतें हो। जो लोग अपने हालात से मजबूर हौकर मौत को गले लगा लेते हैं। वो कायर नहीं बल्कि निडर और साहसी होते हैं। 

जिंदगी को हँस कर शरहद पर लुटा लेने वाले जवानों से पुछना  जिंदगी और मौत की जंग में पलड़ा किसका भारी होता है। 

बस इतना कहना हैं  गलतियां हो जाऐं तो गलतियों का एहसास करना ।
फिर से उठने का दिल करे तो जिंदगी मैं आजाद रहना।। 

सच्ची बातें । True words🇨🇮💐☝🙏🏻


Www.edmranjit.com.....my motiv my thoughts. 
Motivation though. 
Ranjit choubeay.
Writer blogger thinker. 18/08/2019







Comments

Popular posts from this blog

कुछ पल की जिंदगी हैं कुछ पल में मिट जाना हैं। /There are few moments of life to be erased in a few moments/

#EDMranjit  कुछ पल की जिंदगी हैं कुछ पल में मिट जाना हैं। /There are few moments of life to be erased in a few moments/कुछ पल की जिंदगी हैं  कुछ पल में मिट जाना है //फिर कैसी ये कड़वाहट है कैसा ये टकराना हैं।। मिल कर बीता सको एक दूजे का साथ मित्रों  तो मिल जाना।। वरना  ये पल तो बस युही निकल जाना हैं। फिर कैसी ये कड़वाह कैसा ये टकराना हैं।। 
बड़े शानौ शौकत से मिली हैं  आपको ये प्यारी सी जिंदगी।। खुलकर लुटा डालो अपने मन के हर अरमानो को।। क्या पता कब ये पल हमें मजबूर कर दे सब कुछ यही छोड़ जाने को। लोग कहतें आऐं हैं  तरसते हैं  सब जीव मानव जन्म पाने को।। 
चलों मिलकर सब एक सुंदर सा जहाँ बनाते हैं।। राग् द्वेष सब यही पर छोड़ जाते हैं।। नहीं कुछ तेरा मेरा सब मिलकर बाँट लेते हैं।। श्री के श्री चरणों मैं  सुंदर मन से शीश झुकाते हैं।। 
जय श्री राधे कृष्णा।। कुछ पंक्तियां  मेरे श्री को सम्रप्रित।। कुछ पल की जिंदगी हैं कुछ पल में मिट जाना हैं। /There are few moments of life to be erased in a few moments/Www.edmranjit.com 26/07/2019.   Ranjitchoubeay. 

Poetry //कितनें सत्य जीवन के💐

###ranjit//
Poetry //कितनें सत्य जीवन के💐 इतना गैरत भी नहीं के गिर जाऊ।
बीना पंख के भी मन सबसें तेज है ।
दुर निगाहों से देखता इंसान चाँद को।
आसमां मैं भी बहुत सारें छेंद हैं ।
कभी नदियों का बहना गौर करो।
समुन्दर के विशाल आकार को निहारों।
सब कुछ समाहित कर जानें वाला भी।
अपनी खामोशियों से शान्ति फैला रहा है ।
अदम्य साहस भर कर भी हाथी डरता हैं ।
एक छोटी सी चींटी से सिंहरता हैं।
सब कुछ पाना ही जिंदगी का राज नहीं।
जन्म और मृत्यु के बीच में संघर्ष सत्य है ।
कभी भटक जाता हैं ज्ञानी पुरूष भी।
धर्म सत्य ज्ञानी और अज्ञानी के बीच सदैव।
जो फैला रहा फैला रहेगा वही जीवन मतभेद है।
अगर खुद ही विकार संबल हो जाएं।
मन खुद ही प्रबल हो जाएं।
तो अंधकार सा लगने वाला जीवन भी जल ऊठे।
फिर कैसा रंगभेद सारा जहाँ अपना स्वदेश हैं ।
Www.edmranjit.com
Poetry //कितनें सत्य जीवन के💐 #रंजीत चौबे। 09/07/2019

अब जिंदगी मैं वापस जाना नहीं है //पोयम//💐

###ranjit//
अब जिंदगी मैं वापस जाना नहीं है //पोयम//💐 अब जिंदगी में वापस।
जाना नहीं हैं।
किसी से भी दिल ये।
लगाना नहीं हैं।
कोई इसकों तोड़ें खिलौना।
समझकर।
ऐसें लोगों की बातों में ।
आना नहीं हैं।

```नहीं कोई मेरी तमन्ना रही अब।
नहीं कोई सपनें सजाएंगे हम।
जो अपना समझकर पराया हैं करता।
ऐसे लोगों से मीलने ना जाऐंगें हम।

``मेरी हर कहानी के पन्नों में शामिल।
मेरी जिंदगी के वो पहलू हैं मिलतें।
जहाँ हर कदम लिखी हमनें नफरत।
वो साहिल किनारें से सजदा करें क्यों।
``हर एक पन्ना मेरी कहानी कहेगा।

हर एक आँसू बहकर नादानी लिखेगा।
नहीं होगा कोई तेरा साहिल बनकर।
ये इश्क ही तेरी कहानी कहेगा।
``हमनें खाई हर बार चोट।

फिर भी कुछ सीख ना पाएं।
एक नई शुरुआत के लिये।
हम क्यो लौट आएं।
```क्यों आशिक ही बरबाद होतें हैं।

उनकीं खता क्या हैं दुनियाँ वालों।
तुम बताओं नफरत के ठेकेदारों।
क्या दिल जलाने की ठेकेदारी मिलती हैं।
```दुनियाँ में भलें ही घर ।

चारदिवारी होतें हैं।
पर दिल की तो एक ही दिवार हैं।
क्या करेंगेः अब सच्चे दिवाने।
दिल की दिवारों पर चल रही तलवार हैं।
``टुटा हैं दिल अब जोड़ना नहीं चाहेंगे।

राह बिछ़डी है…